लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध हिन्दी में: Lal Bahadur Shastri Essay in Hindi

लाल बहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में हुआ था। वे भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान सैन्य नेता और प्रतिष्ठित राजनेता थे। उन्होंने अपने जीवन में सर्वोत्तम सेवा और निष्ठा का परिचय दिलाया।

लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध हिन्दी में: Lal Bahadur Shastri Essay in Hindi
लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध हिन्दी में: Lal Bahadur Shastri Essay in Hindi

लाल बहादुर शास्त्री ने स्वतंत्रता संग्राम में भाग लिया और महात्मा गांधी के नेतृत्व में भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का हिस्सा बने। उन्होंने अहिंसा और सत्य के मूल्यों का पालन किया और ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ लड़ा।

शास्त्री जी के पिता एक स्कूल शिक्षक थे, और उनका निधन तब हुआ जब वे बहुत छोटे थे। इसके बावजूद, उन्होंने शिक्षा का महत्व समझा और अपने जीवन में मेहनत करके आगे बढ़ने का संकल्प बनाया।

लाल बहादुर शास्त्री ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा काशी विद्यापीठ से प्राप्त की, और वहां से उन्होंने स्नातक की डिग्री प्राप्त की। उनका नाम ‘शास्त्री’ उनकी स्नातक की डिग्री के हिस्से के तौर पर जुड़ गया, और इसके बाद से ही वे ‘लाल बहादुर शास्त्री’ के नाम से प्रसिद्ध हुए।

ALSO READ: Chandrayaan 3 Essay in English for School Students

लाल बहादुर शास्त्री ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान अपना जीवन समर्पित किया और अनेक सविनय अवज्ञा आंदोलनों में भाग लिया। उन्होंने ब्रिटिश सरकार के खिलाफ अपनी जान की पर्याप्त मांग की और स्वतंत्रता के लिए संघर्ष किया।

1947 में भारत को स्वतंत्रता मिलने के बाद, शास्त्री जवाहरलाल नेहरू की सरकार में शामिल हुए और कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया। उन्होंने रेलवे और परिवहन मंत्री, वाणिज्य और उद्योग मंत्री, और गृह मामलों के मंत्री के रूप में योगदान किया और अपने प्रशासनिक कौशल के साथ काम करवाया।

1964 में, जवाहरलाल नेहरू के निधन के बाद, शास्त्री भारत के प्रधान मंत्री बने। उनके कार्यकाल में भारत को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा, जैसे कि गंभीर सूखा, आर्थिक मंदी, और पाकिस्तान के साथ सीमा विवाद।

1965 में, भारत-पाकिस्तान युद्ध के समय, उन्होंने प्रसिद्ध नारा “जय जवान जय किसान” का मनोबल बढ़ाया और भारतीय सेना को साहस और समर्पण के साथ प्रेरित किया।

शास्त्री जी का प्रधान मंत्री बनने के बाद, उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान नेता महात्मा गांधी की पारंपरिक भावनाओं को निभाया और भारतीय समाज के सुधार में योगदान किया।

You May Like: [Download] पाठ योजना हिंदी कक्षा 10 PDF | Hindi Lesson Plan Class 10 PDF

लाल बहादुर शास्त्री जी की मृत्यु 11 जनवरी 1966 को उज्बेकिस्तान के ताशकंद में हुई, और उनकी मृत्यु के पीछे के परिस्थितियों का रहस्य आज भी बना हुआ है। लेकिन उनकी सादगी, समर्पण, और देश के प्रति उनकी प्रतिबद्धता की यादें हमें हमेशा याद रहेंगी।

लाल बहादुर शास्त्री ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान अपने महान संघर्ष और सेवा के प्रति अपना समर्पण साबित किया और उन्होंने भारतीय समाज को एक उदाहरण प्रदान किया कि सच्चे नेतृत्व के साथ हर कठिनाई को पार किया जा सकता है। वे हमारे देश के महान नेता थे और उनकी यादें हमें हमेशा प्रेरित करती रहेंगी।

Author

1 thought on “लाल बहादुर शास्त्री पर निबंध हिन्दी में: Lal Bahadur Shastri Essay in Hindi”

  1. Pingback: Bihar Police Most Important Questions Practice Set - ClueCompetitions

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Babu Daudayal Saraswati Vidya Mandir

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading